Type Here to Get Search Results !

Ad

कोतवाली पुलिस गरियाबंद की तत्काल कार्यवाही 24 घण्टे के अंदर भीतर ATM मामले के कनौजिया गिरोह का किया पर्दाफाश तीनों आरोपियों को किया गिरफ्तार...

 Kotwali Police Gariaband's immediate action, within 24 hours the Kanojia gang of the ATM case was exposed, all the three accused were arrested...


गरियाबंद: मामला जिला गरियबांद के सिटी कोतवाली क्षेत्रान्तर्गत् नगर में स्थित जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित रायपुर शाखा गरियाबंद का है। जहां के शाखा प्रबंधक हरिराम ध्रुव पिता स्व0 देवसिंग ध्रुव उम्र 51 साल साकिन पैरी कॉलोनी गरियाबंद थाना व जिला गरियाबंद ने थाना आकर लिखित आवेदन पेश कर रिपोर्ट दर्ज कराया कि दिनांक 22.06.2023 तथा 23.06.2023 को अज्ञात व्यक्ति के द्वारा शाखा के परिसर में लगे एटीएम मशीन में छेड़खानी कर 3,46,500/-रू0 आहरण कर धोखधड़ी किये हैं। जिसके बारे में सिटी कोतवाली गरियाबंद में अपराध क्रमांक 186/2023 धारा 420,120-बी, 34 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।


मामले की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुए जिला गरियबांद के उमनि/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अमित तुकाराम काम्बले एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री देवचरण पटेल के दिशा-निर्देश, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस श्री पुष्पेन्द्र नायक के मार्गदर्शन एवं उप पुलिस अधीक्षक गोपाल वैश्य के पर्यवेक्षण में थाना प्रभारी सिटी कोतवाली के हमराह सायबर सेल की सुयंक्त रूप से विशेष टीम गठित कर मामले के शीघ्र निकाल करने एवं आरोपी गिरफ्तारी करने के सम्बंध में निर्देशित किया गया।


आरोपी पता तलाश के दौरान जिले के सभी शाखा प्रबंधकों के साथ मिटिंग कर एटीएम एवं सीसीटीव्ही पर विशेष नजर रखे जाने आवश्यक सुझाव दिया गया था। इसी दरम्यान जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित रायपुर शाखा गरियाबंद के एटीएम में दिनांक 19.07.2023 के शाम को एक व्यक्ति एटीएम फ्रॉड करने की कोशिश कर रहा था। जिसकी हरकत सीसीटीव्ही फुटेज में रिकार्ड हो गयी। इस सूचना को बैंक मैनेजर हरिराम ध्रुव ने विशेष टीम को दिया। तदुपरान्त् विशेष टीम के द्वारा शहर में नाकाबंदी कर सघन जांच किया गया। इस दरम्यान बस स्टैण्ड के पास एक संदिग्ध व्यक्ति को हिरासत में लेकर कड़ाई से पुछताछ किया गया। जो बताया कि अपने दो साथियों के साथ गरियाबंद में बैंक फ्रॉड कर धोखाधड़ी करने के उद्देश्य से आया था। संदिग्ध व्यक्ति के निशांदेही पर उनके अन्य दो साथियों को महासमुंद से हिरासत में लिया गया। विस्तृत पुछताछ करने पर गरियाबंद एवं राजिम में एटीएम मशीन में छेड़छाड़ कर धोखधड़ी करना स्वीकर किये। तीनों आरोपियों के कब्जे से 31 नग एटीएम कार्ड एवं नगदी रकम 5,200/-रू0 जप्त किया गया है। जिसके बाद तीनों आरोपियों को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड में माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया गया है।


धोखधड़ी के इस मामले का खुलासा करने तथा तीनों आरोपियों को गिरफ्तरी करने में सिटी कोतवाली गरियाबंद थाना प्रभारी निरीक्षक राकेश कुमार मिश्रा, सहायक उप निरीक्षक देवेन्द्र वर्मा, प्रधान आरक्षक डिगेश्वर साहू, आरक्षक मुरारी यादव, योगेश ठाकुर, डिगेश्वर साहू, कुंदन जगने, रवि सोनवानी, नरेन्द्र कर्ष तथा विशेष टीम प्रभारी प्रधान आरक्षक अंगद राव वाघ, सतीश यादव, जयप्रकाश मिश्रा, आरक्षक सुशील पाठक, रवि सिन्हा, यादराम ध्रुव की विशेष भूमिका रही।


गिरफ्तार आरोपी:-


01. गोविंद कुमार पिता भीखा प्रसाद उम्र 24 साल ग्राम केशी थाना बरौर जिला कानपुर उ0प्र0,


02. अभिषेक यादव पिता राजेन्द्र सिंह उम्र 23 साल ग्राम मौसमपुर मौरारा, थाना व जिला कन्नौज उ0प्र0,


03. कौशल किशोर पिता शिवनाथ लोधी उम्र 23 साल ग्राम भड़हा थाना ठठीया जिला कन्नौज उ0प्र0


जप्त सामग्री:-


31 नग एटीएम कार्ड, नगदी रकम 5200/-रू०

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.